पीसीओएस की समस्या महिलाओं में आम होती जा रही है जिसके साथ नॉर्मल लाइफ जीना आसान नहीं।  हेल्दी लाइफस्टाइल और डाइट द्वारा ही कुछ हद तक इससे राहत मिलना पॉसिबल है। साथ ही साथ कुछ हर्बल चाय भी इस प्रॉब्लम में फायदा पहुंचाती हैं। जिनके बारे में जानेंगे।

1. डंडेलियन रूट टी- एक ऐसी जड़ी-बूटी है जो पीसीओएस (PCOS) के लक्षणों से निपटने में कारगर है। डंडेलियन रूट टी पीने से सूजन, हाई डायबिटीज और यूरिन इंफेक्शन की समस्या भी दूर होती है।

2. कैमोमाइल चाय: कैमोमाइल लोकप्रिय रूप से आपके शरीर पर शांत और आरामदेह प्रभाव डालने के लिए जाना जाता है। पीसीओएस (PCOS/PCOD) से परेशान महिलाएं पेट में हो रहे दर्द, मरोड़ को शांत करने और मूड  को ठीक करने के लिए इस चाय को पीती हैं। लेकिन ये हर्बल टी आपको कई और दूसरे गंभीर बीमारियों से भी बचाती है। यह डिम्बग्रंथि के सिस्ट, सामान्य सर्दी के इलाज में भी फायदेमंद है। 

3. स्पीयरमिंट टी- स्पीयरमिंट पेपरमिंट से काफी मिलता-जुलता है। पुदीने की चाय में बड़ी मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट यौगिक होते हैं जो पाचन संबंधी परेशानियों के लिए बेहद फायदेमंद है। यह शरीर पर एंटी-एंड्रोजेनिक प्रभाव भी डालता है और टेस्टोस्टेरोन के स्तर को कम करने में भी मदद करता है।

4. दालचीनी की चाय- हमने हमेशा सुना है कि जब हम सुबह सबसे पहले दालचीनी का पानी पीते हैं तो वजन घटाने में कैसे मदद मिलती है। लेकिन जब पीसीओएस की बात आती है तो इसके कई स्वास्थ्य लाभ भी होते हैं। दालचीनी महिलाओं में प्रजनन क्षमता को बढ़ाती है, गर्भाशय फाइब्रॉएड से निपटती है और सामान्य मासिक धर्म प्रवाह को नियंत्रित करने में भी मदद करती है।

5. अदरक की चाय: अदरक के अपने कई स्वास्थ्य लाभ हैं। अदरक महिला हार्मोन को संतुलित करने में मदद करता है। अदरक की चाय अक्सर ऐंठन दूर कर, मूड ठीक करने और सिरदर्द कम करने में भी फायदेमंद है।