India

बारिश की वजह से 18 लोगों की मौत, CM ने दिए राहत कार्य के निर्देश

लखनऊ। यूपी में पिछले 24 घंटों से हुई बारिश ने लोगों के लिए आफत खड़ी कर दी है। बारिश और आकाशीय बिजली गिरने से कन्नौज में 18 लोगों की मौत हो गई। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को तेजी से राहत कार्य शुरू करने के निर्देश दिए हैं। उधर मौसम विभाग ने प्रदेश के अधिकतर जिलों में अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग ने प्रदेश के अधिकतर जिलों में अलर्ट जारी किया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सभी जिलों के अधिकारियों को पूरी तत्परता से राहत कार्य में जुट जाना है। डीएम क्षेत्र का भ्रमण कर राहत कार्य पर नज़र रखें।

तेज हुई बारिश रात भर चली। सोमवार को भी पूरे दिन बारिश होने का असर पूरे प्रदेश में आया है। खास तौर से शहरों में इस कदर जलभराव हुआ कि यातायात व्यवस्था बुरी तरह से चौपट हो गई। कई जिलों में सड़कें बैठ गईं। प्रदेश में अति वृष्टि से 13, आकाशीय बिजली गिरने से 4 जबकि दो लोगों की डूबने से मौत हो गई। कन्नौज में बारिश के कारण मकान गिरने से अवनीश (15) और उसके भाई आलोक (12) की मलबे में दबकर मौत हो गई।

राहत आयुक्त जीएस नवीन कुमार के मुताबिक हरदोई में चार, बाराबंकी में तीन, प्रतापगढ़ व कन्नौज में दो-दो, अमेठी, देवरिया, जालौन, कानपुर नगर, उन्नाव, संभल, रामपुर व मुजफ्फरनगर में एक-एक व्यक्ति की मौत हुई है। हालांकि फसलों के लिए शुरुआती बारिश मुफीद थी पर अब ज्यादा बारिश होने से खेतों में जलभराव शुरू हो गया है। इससे फसलों को नुकसान होगा। उधर झमाझम बारिश होने के कारण विभिन्न जिलों में सोमवार सुबह ही स्कूलों में आनन फानन में छुट्टी की घोषणा की गई। कई जिलों में मंगलवार को भी स्कूल बंद रखे गए हैं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सभी जिलों के अधिकारियों को पूरी तत्परता से राहत कार्य में जुट जाना है। डीएम क्षेत्र का भ्रमण कर राहत कार्य पर नज़र रखें। आपदा से प्रभावित लोगों को अनुमन्य राहत राशि का अविलंब वितरण करें। जल भराव की स्थिति में जल निकासी के लिए प्रभावी प्रबंध किए जाएं। नदियों के जल स्तर की निगरानी की जाए। फसलों को हुए नुकसान का आकलन कर शासन को आख्या उपलब्ध कराई जाए तक प्रभावित किसानों को नियमानुसार मुआवजा दिया जा सके।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button