India

खान सर ने बनाया विश्व रिकार्ड, 7000 लड़कियों ने बांधी राखी

Raksha Bandhan: देशभर में फेमस ऑनलाइन ट्यूटर पटना के खान सर ने रक्षाबंधन के दिन करीब 7 हजार छात्राओं से अपनी कलाई पर राखी बंधवाई है। खान सर ने रक्षाबंधन को लेकर अपने कोचिंग में रक्षाबंधन कार्यक्रम का आयोजन किया था। जिसमें खान सर से पढ़ने वाली अलग-अलग बैच की करीब 10 हजार से ज्यादा छात्राएं इस कार्यक्रम में शामिल हुई थी। जहां एक-एक कर करीब 7 हजार लड़कियों ने खान सर की कलाई में राखी बांधी।

सोशल मीडिया पर आए दिन उनकी कोई न कोई वीडियो देखने को मिल जाती है। जानकारी के अनुसार, इस कार्यक्रम में 10 हजार से ज्यादा बच्चे आए थे, जिन्होंने अपने टीचर यानी खान सर को अपना भाई माना और उनकी कलाई पर राखी बांधी. रिपोर्ट्स की मानें तो खान सर को 7000 लड़कियों ने राखी बांधी। राखी का ये कार्यक्रम ढाई से तीन घंटे तक चला यानी ढाई घंटे तक लडकियां खान सर को राखी बांधती रहीं।

वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने का दावा

सोशल मीडिया पर कई वीडियो और फोटोज़ भी वायरल हो रही हैं, जिसमें छात्राएं अपने टीचर को राखी बांधती नजर आ रही हैं। यहां तक कि खुद खान सर ने भी अपने इंस्टाग्राम और यूट्यूब अकाउंट पर एक वीडियो शेयर किया है, जिसमें राखी से भरा उनका हाथ देखा जा सकता है। खान सर ने यह दावा भी किया है कि ये एक वर्ल्ड रिकॉर्ड है। क्योंकि पहले कभी किसी को इतनी ज्यादा राखियां नहीं बांधी गई हैं।

पूरी दुनिया में मुझसे ज्यादा राखी कोई नहीं बंधवाता होगा

उन्होंने कहा कि उनकी कोई अपनी बहन नहीं है, इसके लिए उन्होंने इन सभी को अपनी बहन बनाने का निर्णय लिया है। खान सर ने कहा कि हर साल रक्षाबंधन के दिन मैं अपनी छात्राओं से राखी बंधवाता हूं। मैं दावे के साथ कहता हूं की पूरी दुनिया में मुझसे ज्यादा राखी कोई नहीं बंधवाता होगा। खान सर ने कहा कि लड़कियां अलग-अलग जगह से हमारे यहां पढ़ने आती हैं, अपने परिवारों से दूर आती हैं, उन्हें अपने परिवार की कमी महसूस ना हो इसके लिए मैं इनका भाई बनता हूं। उन्होंने कहा, ‘मैं तो अब अपना हाथ भी नहीं उठा सकता। क्योंकि मेरे हाथ पर 7 हजार से ज्यादा राखियां बांधी गई हैं। खान सर ने आगे यह भी कहा कि जब वह इन राखियों को खोलते वक्त गिनेंगे, तभी सही आंकड़ा बता पाएंगे कि उनके हाथों पर कितनी राखियां बांधी गईं। उन्होंने कहा कि उन्होंने व्यक्तिगत रूप से सभी लड़कियों से राखी बंधवाई।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button