गांव फत्तूढींगा में पति ने दोपहर को गुस्से में कस्सी मारकर पत्नी की हत्या कर दी। मृतका का बेटा नशे के लिए पैसे न देने को बता रहा वारदात का कारण। वहीं थाना फत्तूढींगा के एसएचओ के अनुसार रोटी न देने पर गुस्से में वारदात को अंजाम दिया गया। फिलहाल थाना फत्तूढींगा की पुलिस मामले की जांच कर रही है। हत्या के मामले में अलग-अलग बयान वारदात को संदेहास्पद बना रहे हैं। 
मंगल सिंह ने बताया कि उसका पिता प्रेम सिंह नशे का आदी है। वह अक्सर नशे की हालत में पारिवारिक सदस्यों के साथ बिना किसी कारण लड़ाई -झगड़ा करता रहता है। गुरुवार को दोपहर दो बजे उसकी माता बिमला घर पर अकेली थी। उसका पिता प्रेम सिंह घर गया और उसकी मां से नशे करने के लिए पैसे मांगने लगा। 

जब उसने इंकार कर दिया तो उसने पास ही रखी कस्सी उसे मार दी, जोकि उसकी गर्दन पर लगी। घटना के बाद उसका पिता प्रेम सिंह मौके से फरार हो गया। गंभीर रूप से जख्मी बिमला को परिजन तुरंत इलाज के लिए सिविल अस्पताल ले गए। जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। जबकि थाना फत्तूढींगा के एसएचओ एसआई चन्नण सिंह हत्या की वजह कुछ और बता रहे हैं। 

उनके अनुसार प्रेम सिंह ने दोपहर को अपनी पत्नी से रोटी मांगी, उस समय उसकी पत्नी बिमला बर्तन मांज रही थी। उसने बर्तन मांजने के बाद रोटी देने की बात कही तो इस पर प्रेम सिंह को गुस्सा आ गया और उसे पास ही रखी कस्सी उसके मार दी। जिससे वह जख्मी हो गई। एसएचओ ने कहा कि नशे के लिए पैसे मांगने वाली बात सामने नहीं आई है। पुलिस मामले की तफ्तीश कर रही है। जल्द ही सारा मामला साफ हो जाएगा। सिविल अस्पताल के ड्यूटी डॉक्टर ने शव को मोर्चरी में पोस्टमार्टम के लिए रखवा दिया है।