नई दिल्ली । महाराष्ट्र और हरियाणा में सोमवार को विधानसभा चुनाव के लिए मतदान की तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। दोनों ही प्रदेशों में विधानसभा चुनाव के लिए सभी पोलिंग बूथों पर वोटिंग के लिए सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए जा रहे हैं, जिससे ज्यादा से ज्यादा संख्या में लोगों का मतदान कर सके। 21 अक्टूबर को महाराष्ट्र और हरियाणा के विधानसभा चुनाव के अलावा उत्तरप्रदेश की 11 सीटों सहित देश में कुल 51 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव भी कराया जाएगा।
चुनाव आयोग के मुताबिक, 21 अक्टूबर को उत्तरप्रदेश की 11 सीटों सहित गुजरात की 6, बिहार की 5, केरल की 5, पंजाब की 4,असम की 4, सिक्किम की 3, राजस्थान की 2 तमिलनाडु की 2 और हिमाचल प्रदेश की 2 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव कराए जाएंगे। इसके अलावा तेलंगाना, एमपी, पुडुचेरी, ओडिशा, अरुणाचल प्रदेश, मेघालय और छत्तीसगढ़ की 1-1 सीट पर वोटिंग होगी। इसी दिन बिहार की समस्तीपुर लोकसभा सीट पर वोटिंग होगी। 
महाराष्ट्र विधानसभा की कुल 288 सीटों के लिए कुल 3,239 उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। 21 अक्टूबर को राज्यभर में मतदान होगा और 24 अक्टूबर को मतगणना होगी। राज्य में कुल 8 करोड़ 95 लाख 62 हजार 706 मतदाता मताधिकार का उपयोग करने वाले है। चुनाव के लिए राज्य में कुल 95,473 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। वोटिंग के लिए 1.8 लाख ईवीएम मशीनों का उपयोग होगा।

महाराष्ट्र में सभी दलों के कई दिग्गज अाजमा रहे अपनी किस्मत 
महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव में प्रदेश के लगभग सभी राजनीतिक दिग्गज नेता चुनाव लड़ रहे हैं। इनमें मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से लेकर पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण,पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण, विजय वडेट्टीवार, एनसीपी के वरिष्ठ नेता अजित पवार, एनसीपी के जयंत पाटील, नवाब मलिक आदि शामिल हैं। इसके अलावा सत्ता में विराजमान बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल और शिवसेना के युवा सेना आदित्य ठाकरे पहली बार चुनाव मैदान में हैं।
महाराष्ट्र के अलावा हरियाणा में भी चुनावी मुकाबला काफी दिलचस्प होने वाला है। प्रदेश में मनोहर लाल खट्टर एक बार फिर जहां सत्ता में वापसी के लिए पूरा जोर लगा रहे हैं,वहीं आंतरिक कलह से किसी तरह उबरी कांग्रेस इस बार चुनाव में राजनीतिक संजीवनी तलाशने में जुटी है। दोनों प्रमुख राजनीतिक दलों के अलावा इंडियन नैशनल लोकदल, जननायक जनता पार्टी और हरियाणा लोकहित पार्टी जैसे दल भी प्रदेश की सत्ता में जीत को लिए जोर-आजमाइश कर रहे हैं।
हरियाणा में प्रदेश की 90 विधानसभा सीटों पर वोटिंग होगी। विधानसभा चुनाव से पहले राज्य के 2,923 मतदान केंद्रों की पहचान संवेदनशील और 83 की अतिसंवेदनशील के तौर पर की गई है। हरियाणा में 10,309 स्थानों पर कुल 19578 मतदान केंद्र हैं जहां आगामी चुनाव के लिए वोटिंग कराई जाएगी। इनमें 13837 मतदान केंद्रों को ग्रामीण इलाकों में स्थापित कराया गया है। प्रदेश में चुनाव की वोटिंग के दौरान कुल 1169 प्रत्याशियों की किस्मत का फैसला होगा, जिसमें मुख्य रूप से बीजेपी, कांग्रेस और क्षेत्रीय दलों के उम्मीदवार शामिल हैं। प्रदेश में चुनाव की तैयारियों के क्रम में राज्य पुलिस के अलावा केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल समेत अन्य सुरक्षा बलों के जवानों को तैनात किया गया है।