वैश्विक महामारी कोरोना वायरस का कहर देश में लगातार बढ़ता जा रहा है। देश में कोरोना से मरने वालों की संख्या 27 हो गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक देश में कुल मरीजों की संख्या 1047 हो गई है। इसमें 95 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। वर्तमान में भर्ती मरीजों की संख्या 924 है। 

इंदौर में आठ नए मरीज, 32 हुई संक्रमितों की संख्या

देश में स्वच्छता में नंबर वन रहने वाला इंदौर भी कोरोना वायरस के कहर से कराह रहा है। इंदौर में लगातार संक्रमित मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी हो रही है। सोमवार को इंदौर में आठ नए मरीज सामने आए हैं। इनमें सात इंदौर और एक उज्जैन निवासी हैं। इसी के साथ इंदौर में कोरोनो संक्रमित मरीजों की संख्या 32 हो गई है।

नोएडा में चार बजे के बाद घरों से निकलने पर पाबंदी

कोरोना वायरस से निपटने के लिए लगाए 21 दिनों के लॉकडाउन को लेकर सरकार अब सख्त हो गई है। इसी के मद्देजनर उत्तर प्रदेश के गौतम बुद्ध नगर जिले में शाम चार बजे के बाद घर से निकलने पर पाबंदी लगा दी गई है। नोएडा में आरएएफ और पीएसी को तैनात किया गया है।

इंदौर में आज मिले आठ पॉजिटिव मामले, देश में अब तक 27 की मौत

छत्तीसगढ़ में कांग्रेस के विधायक शैलेश पांडे के खिलाफ धारा-144 का नियम तोड़ने पर मामला दर्ज किया गया है। उनपर बिलासपुर में अपने घर के बाहर भीड़ इकठ्ठा करने के मामले में एफआईआर हुई है।

  • महाराष्ट्र में फंसे कर्नाटक के 2442 मजदूरों को कल राज्य सरकार ने 62 बसों में वापस लाया।
  • तमिलनाडु में मदुरै के नादराज नगर में एक कपड़ा स्टोर के मालिक सतीश कुमार ने 800 सूती मास्क बनाकर जरूरतमंद, पुलिसकर्मियों, निगम और स्वास्थ्य कर्मचारियों को बांटे हैं।
  • मध्यप्रदेश में कोरोना वायरस के दो मरीजों के खिलाफ नियमों का उल्लंघन करने पर मामला दर्ज किया गया है। दोनों ही मरीज 28 मार्च को इंदौर के एमआरटीबी अस्पताल से भाग गए थे, हालांकि बाद में उनका पता लगाकर उन्हें कल वापस अस्पताल लाया गया।


पीएम रोज 200 लोगों से लेते हैं फीडबैक 
लॉकडाउन के दौरान लोगों की राय जानने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी रोजाना 200 से ज्यादा लोगों से बात कर रहे हैं। इसमें राज्यपालों, मुख्यमंत्रियों और राज्य के स्वास्थ्य मंत्रियों को किए जाने वाले फोन कॉल शामिल हैं। पीएम डॉक्टरों, नर्सों, स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं व स्वच्छता कर्मचारियों से भी बात करते हैं। 

अखबारों की आपूर्ति सुनिश्चित कराएं: केंद्र
केंद्र सरकार ने राज्यों के मुख्य सचिवों को पत्र लिखकर आवश्यक वस्तुओं की सप्लाई निर्बाध जारी रखने को कहा है। केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने सभी तरह के माल परिवहन के साथ दूध व किराना, हाइजीन उत्पाद और अखबारों की आपूर्ति जारी रखने के निर्देश दिए हैं।