बॉलीवुड में महिला किरदारों वाली फिल्में भी हिट हुई हैं। इन फिल्मों ने न सिर्फ महिलाओं के मुद्दे को पूरी संवेदनशीलता से उठाया बल्कि उस पर उतनी अच्छी कहानी भी लिखी जिसे की वजह से ये फिल्में दर्शकों के जेहन में हमेशा के लिए उतर गईं। इन फिल्मों ने लोगों को उन हालात की गंभीरता पर सोचने के लिए मजबूर किया। 
डियर जिंदगी, मर्दानी, मारगरीटा विद ए स्ट्रॉ, पीकू, कहानी, डोर, चांदनी बार जैसी कई महिला प्रधान फिल्मों का जिक्र किया जा सकता है, जो समय के साथ महिलाओं की जिंदगी में आने वाले बदलाव और चुनौतियों की कहानी कहती हैं और उन्हें नए अवतार में भी पेश करती हैं। इन महिला प्रधान फिल्में से समाज की सोच में भी बदलाव आया है। 
पीकू
इस फिल्म में बेटी और पिता के रिश्ते को बेहद खूबसूरती के साथ पेश किया गया है। इसमें दिखाया गया था कि एक महिला किस तरह से अपने पिता का ख्याल रखते हुए अपने पार्टनर का साथ निभाती है। यह इस फिल्म में बहुत सहजता से दिखाया गया है। फिल्म में दीपिका पादुकोण, अमिताभ बच्चन और इरफान खान मुख्य किरदार में हैं।  
नाम शबाना
यह फिल्‍म 'बेबी' का प्रीक्‍वेल थी, जिसमें शबाना बनीं खूफिया एजेंट तापसी पन्नू की एजेंट बनने की कहानी दिखायी गई थी। इस फिल्‍म में तापसी पन्नू जबरदस्‍त एक्‍शन करते हुए नजर आई थीं।  फिल्‍म में अक्षय कुमार की भी एंट्री देखने को मिली थी। लेकिन फिल्म में तापसी पन्नू के एक्शन ने सबका दिल जीत लिया।  
लिपस्टिक अंडर माई बुर्का
यह फिल्म चार महिलाओं की छुपी हुई भावनाओं को व्‍यक्‍त करती है। इस कहानी पर देश में रिलीज से पहले ही काफी हंगामा हुआ था। कहानी में दिखाया गया कि हमारे समाज में महिलाओं की आजादी को जकड़ने वाली बेड़ियों पर किस हद तक वार करती है।
तुम्‍हारी सुलु 
फिल्म में शादी के बाद एक आम हाउस वाइफ के नाइट आरजे बनने की कहानी को दिखाया गया है। फिल्म की कहानी में दिखाया गया कि कैसे एक हाउस वाइफ अपने सुपनों को पूरा करती है। सुलु ने अभी तक कुछ बड़ा तो नहीं किया है लेकिन वह सपने बहुत देखती है। जब उसे एक खास मौका मिलता है तो उसकी पर्सनल और फैमिली लाइफ पर काफी असर पड़ता है। सुलु सफलता से रेडियो जॉकी के तौर पर कॉर्पोरेट मीडिया में अपना जीवन जीन लगती है। जल्द ही सुलु रातोंरात मशहूर हो जाती है साथ ही वह अपने घर को भी सफलता से संभालती है।
मर्दानी
फिल्‍म 'मर्दानी' की कहानी महिला पुलिस शिवानी शिवाजी रॉय के इर्द‍-गिर्द घूमती है। इस फिल्म में रानी मुर्खजी का दमदार एक्शन देखने को मिला। 
क्वीन
इस फिल्म में दिखाया गया कि कैसे एक लड़की शादी टूटने के बाद अपने आप को संभालती है। बचपन से परिवार और समाज की हिदायतों में पलने की वजह से उन्हें ख्याल ही नहीं आता कि उन्हें अपने लिए भी जीना है। यह एक लड़की के तितली बनने की कहानी है। पंख निकलते ही वह दुनिया से दो-चार होती है। खुद को समझती और फुदकती है।
तनु वेड्स मनु
यह एक कॉमेडी बेस्ड फिल्म है। इसमें दिखाया गया है कि दबंग किस्म की लड़कियां किस तरह से पुरुषों को प्रभावित करती हैं और उनकी जिंदगी में हलचल मचा देती है। इसे फिल्म में कंगना और आर माधवन ने मुख्य किरदार निभाया है। 
अकीरा
फिल्म 'अकीरा' में सोनाक्षी ने गुंडों के छक्के छुड़ाए है। शानदार एक्शन के साथ बदमाशों को हवा में उड़ाती दिखती हैं। पूरी फिल्म में उन्होंने अपने इस एक्शन से लोगों का दिल जीता। इस फिल्म ने समाज में एक अच्छा संदेश भी देने का काम किया था कि महिला किसी से कम नहीं।