भोपाल : कोरोना काल के बाद पहली बार मुंबई में याटिंग एसोसिएशन ऑफ इंडिया द्वारा आयोजित वाईएआई सीनियर नेशनल सेलिंग चैम्पियनशिप-2020 में मध्य प्रदेश वाटर स्पोर्ट्स सेलिंग अकादमी की खिलाड़ी बेटियों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए मध्यप्रदेश को तीन स्वर्ण और दो रजत पदक दिलाए हैं। 

खिलाड़ी बेटियों पर गर्व
प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया ने सीनियर नेशनल सेलिंग चैम्पियनशिप में अकादमी की खिलाड़ियों द्वारा अर्जित स्वर्णिम सफलता पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए पदक विजेता खिलाड़ियों को बधाई दी है। उन्होंने खिलाड़ियों के शानदार प्रदर्शन की सराहना करते हुए कहा कि कोरोना काल के बाद यह पहला अवसर है जब वाटर स्पोर्ट्स सेलिंग अकादमी की खिलाड़ी बेटियों ने अपनी प्रतिभा का उत्कृष्ट प्रदर्शन किया और पदक जीतकर मध्य प्रदेश को गौरवान्वित किया। हमें अपनी खिलाड़ी बेटियों पर गर्व है।

इन खिलाड़ियों ने जीते पदक
इंडियन नेवल वाटर मैनशिप ट्रेनिंग सेंटर मुंबई में 21 से 27 नवंबर, 2020 तक याटिंग एसोसिएशन ऑफ इंडिया द्वारा आयोजित सीनियर नेशनल सेलिंग चैम्पियनशिप के लेजर रेडियल इवेंट में शानदार प्रदर्शन करते हुए अकादमी की स्टार खिलाड़ी हर्षिता तोमर ने मध्य प्रदेश को स्वर्ण पदक दिलाया। प्रतियोगिता के 49er Fx इवेंट में अकादमी की खिलाड़ी एकता यादव और रितिका दांगी की जोड़ी ने मध्यप्रदेश के लिए एक स्वर्ण पदक अर्जित किया और शीतल वर्मा और वंशिका परिहार की जोड़ी ने रजत पदक अर्जित किया। जबकि 470 मिक्सड क्लास इवेंट में अकादमी की खिलाड़ी श्रद्धा वर्मा और मुरैना के खिलाड़ी रवीन्द्र शर्मा की जोड़ी ने एक स्वर्ण पदक तथा उमा  चौहान  और अकादमी के पूर्व खिलाड़ी डिंडोरी के सोनू जाटव की जोड़ी ने मध्यप्रदेश को रजत पदक दिलाया।  उल्लेखनीय है कि सीनियर नेशनल सेलिंग चैम्पियनशिप में म.प्र. वाटर स्पोर्ट्स अकादमी की सात खिलाड़ी बालिकाओं ने भागीदारी की और सातों ने ही शानदार प्रदर्शन करते हुए पदक अर्जित किए हैं।

प्रदेश का मान बढ़ाया
संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन कुमार जैन ने खिलाड़ियों के प्रतिभा प्रदर्शन की सराहना करते हुए कहा कि कोरोना काल के बाद पहली सीनियर नेशनल सेलिंग चैम्पियनशिप में वाटर स्पोर्ट्स अकादमी की बालिका खिलाड़ियों ने तीन स्वर्ण और दो रजत सहित पांच पदक जीतकर प्रदेश का मान बढ़ाया है।

चैम्पियनशिप में खिलाड़ियों ने वाटर स्पोर्ट्स सेलिंग अकादमी के मुख्य प्रशिक्षक अर्जुन अवॉर्डी श्री जी. एल. यादव एवं सहायक प्रशिक्षक श्री अनिल शर्मा के मार्गदर्शन में हिस्सेदारी कर पदक अर्जित किए।