India

दिल्ली-NCR में लगे भूकंप के झटके, घरों से बाहर निकले लोग

Delhi -NCR : दिल्ली एनसीआर सहित आसपास के इलाकों में अभी भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए हैं। जोर के झटके लगते देख लोग अपने घरों से बाहर निकल आए। भूकंप के यह झटके नोएडा और गाजियाबाद में भी महसूस किए गए हैं। दो हफ्ते में दूसरी बार दिल्ली-एनसीआर में धरती डोली है। इससे पहले दिल्ली-एनसीआर में भूकंप इसी महीने 3 अक्टूबर को भी आया था। यह झटके राजधानी दिल्ली सहित आसपास के शहरों फरीदाबाद, गुरुग्राम, गाजियाबाद, नोएडा में लगे हैं। रिक्टल स्केल (Richter Scale) पर भूकंप की तीव्रता 3.1 रही।

भूकंप का केंद्र हरियाणा का फरीदाबाद जिला रहा

जानकारी के अनुसार, भूकंप के झटके शाम चार बजकर 8 मिनट पर महसूस किए गए। भूकंप का केंद्र हरियाणा का फरीदाबाद जिला रहा है। इससे पहले दिल्ली-एनसीआर में भूकंप इसी महीने 3 अक्टूबर को भी आया था। National Center for Seismology (NCS) की तरफ सेजानकारी दी गई है कि शाम 4 बजकर 08 मिनट पर हरियाणा के फरीदाबाद में आज भूकंप आया है। रिएक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 3.1 थी। रविवार का दिन होने की वजह से कई लोग आज अपने घर पर ही मौजूद थे। लेकिन अचानक धरती के डोलने की वजह से लोग घबरा गए और अपने घरों से निकलकर बाहर आ गए। इससे पहले 3 अक्टूबर को राजधानी दिल्ली और एनसीआर में भूकंप के झटके महसूस किए गए थे। उस वक्त भी भूकंप की तीव्रता इतनी तेज थी कि लोग अपने घरों को छोड़कर बाहर निकल गए थे। बताया गया हैकि शाम 4 बजकर 08 मिनट पर दिल्ली- एनसीआर में भूकंप के यह झटके महसूस हुए हैं।

भूकंप की तीव्रता 3.1

बताया जा रहा है कि फरीदाबाद क्षेत्र में 10 किलोमीटर की गहराई पर यह 3.1 तीव्रता का भूकंप आया था। 3 अक्टूबर को नेपाल में भूकंप आया था। इस भूकंप की तीव्रता 6.2 थी। उस वक्त दिल्ली-एनसीआर समेत उत्तर भारत में कई जगहों पर भूकंप के झटके महसूस हुए थे। बता दें कि धरती के अंदर 7 प्लेट्स होती हैं जो लगातार घूमती रहती है्ं। बार-बार टकरानेकी वजह सेप्लेट्स के कोने मुड़ते हैं और ज्यादा दबाव बननेकी वजह सेप्लेट्स टूटने लगती हैं। जिसके बाद धरती के अंदर की ऊर्जा बाहर आने का रास्ता खोजती हैं और इसी उथल-पुथल के बाद भूकंप आता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button