India

राजकीय दौरे पर अमेरिका गए पीएम नरेंद्र मोदी, योग दिवस समारोह में होंगे शामिल

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी संयुक्त राज्य अमेरिका की अपनी आधिकारिक राजकीय यात्रा के पहले चरण में न्यूयॉर्क पहुंचे। पीएम न्यूयॉर्क की अपनी यात्रा के दौरान सीईओ, नोबेल पुरस्कार विजेताओं, अर्थशास्त्रियों, कलाकारों, वैज्ञानिकों, विद्वानों, उद्यमियों, शिक्षाविदों, स्वास्थ्य क्षेत्र के विशेषज्ञों से मुलाकात करेंगे। प्रधानमंत्री 21 जून को संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में योग दिवस समारोह में शामिल होंगे।
जानकारी के मुताबिक, अमेरिका के दौरे में अहम एजेंडा द्विपक्षीय रक्षा सहयोग रहेगा। इसके अलावा दोनों देशों के बीच मजबूत व्यापार व निवेश साझेदारी और प्रौद्योगिकी, दूरसंचार, अंतरिक्ष, विनिर्माण और निवेश जैसे कई अहम मुद्दों पर चर्चा होगी। विदेश मंत्रालय ने पीएम के दौरे को दोनों देशों के संबंधों के लिए मील का पत्थर करार दिया। साथ ही इसे बहुत ही महत्पपूर्ण यात्रा बताया है।
इससे पहले विदेश सचिव विनय मोहन क्वात्रा ने पीएम के अमेरिका-मिस्र दौरे की जानकारी देते हुए कहा था कि पीएम मोदी 21-23 जून तक अमेरिका के दौरे पर रहेंगे। पीएम के आधिकारिक दौरे की शुरुआत 21 जून की सुबह न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र के मुख्यालय में योग दिवस समारोह से होगी। वह कई बड़े नेताओं से मुलाकात भी करेंगे।
इसके बाद पीएम वाशिंगटन डीसी में ‘स्केलिंग फॉर फ्यूचर’ पर आधारित कार्यक्रम में शामिल होंगे। 21 जून को ही अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन और पीएम मोदी के बीच निजी मुलाकात हो सकती है। दूसरे दिन 22 जून को व्हाइट हाउस में पीएम का स्वागत करने के बाद द्विपक्षीय बैठकें करेंगे। वह अमेरिकी संसद के साझा सत्र को भी संबोधित करेंगे।
पीएम ने किया ट्वीट
यात्रा से पहले पीएम मोदी ने ट्वीट किया कि अमेरिकामें, मुझे बिजनेस लीडर्स से मिलने, भारतीय समुदाय के साथ बातचीत करने और जीवन के विभिन्न क्षेत्रों के विचारकों से मिलने का अवसर भी मिलेगा। हम व्यापार, वाणिज्य, नवाचार, प्रौद्योगिकी और ऐसे अन्य क्षेत्रों जैसे प्रमुख क्षेत्रों में भारत-यूएसए संबंधों को गहरा करना चाहते हैं।
रक्षा औद्योगिक सहयोग रोडमैप पर चर्चा
क्वात्रा ने कहा कि पीएम मोदी की अमेरिका यात्रा का एक अहम आयाम दोनों देशों के बीच मजबूत प्रौद्योगिकी गठजोड़ बनाना, रक्षा औद्योगिक सहयोग रोडमैप और आर्थिक संबंधों को बेहतर बनाना है। वह बाइडन के साथ रक्षा सह उत्पादन और सह विकास से जुड़े सभी मसलों पर चर्चा के अलावा सेमीकंडक्टर्स, एयरोस्पेस में सहयोग पर भी चर्चा करेंगे।
इन घोषणाओं की उम्मीद
जनरल इलेक्ट्रिक को घरेलू स्तर पर बने लड़ाकू विमानों के लिए भारत में इंजन बनाने के लिए अमेरिका की मंजूरी, 3 अरब डॉलर मूल्य के 31 सशस्त्र एमक्यू-9बी सीगार्डियन ड्रोन की खरीद की घोषणा भी होगी।
2026 तक प्रौद्योगिकी के लक्ष्य : आईटी मंत्री
भारत के आईटी मंत्री राजीव चंद्रशेखर बोले, हमने 2025-26 तक प्रौद्योगिकी को देश के जीडीपी)का 20-25 प्रतिशत करने का लक्ष्य रखा है। पीएम की यात्रा इस लिहाज से अहम है।
चीन का प्रतिद्वंद्वी है भारत : मार्क वार्नर
डेमोक्रेट सीनेटर मार्क वार्नर ने कहा, भारत अपनी सीमा पर चीन का प्रतिद्वंद्वी है। ऐसे में भारत-अमेरिकी प्रतिबद्धता अहम होगी।
ऐतिहासिक यात्रा का स्वागत : जुआन
कांग्रेस सदस्य जुआन किस्कोमनि ने एक वीडियो संदेश में कहा कि वह मोदी की ऐतिहासिक यात्रा का स्वागत करते हैं। दोनों देशों के रिश्ते बेहद महत्वपूर्ण हैं।
चीन से निपटना जरूरी : विडमर
फर्स्ट सोलर के सीईओ मार्क विडमर ने कहा, हमें गर्व है कि भारत में निवेश करके हिंद-प्रशांत क्षेत्र में चीन के प्रभाव का मुकाबला करने में एक रणनीतिक साझेदार मिल रहा है।
राजकीय यात्रा से पूर्व अमेरिका में भारी उत्साह
पीएम मोदी की अमेरिकी यात्रा से पहले भारतीय-अमेरिकियों के एक बड़े हिस्से में खुशी और उत्साह का माहौल है। सैकड़ों भारतवंशी देश के प्रमुख स्थानों पर एकत्र हुए और मोदी के समर्थन में नारेबाजी की। वाशिंगटन डीसी व उसके आसपास के क्षेत्रों में सैकड़ों भारतीय-अमेरिकी एकता का संदेश देने के लिए राष्ट्रीय स्मारक के पास जुटे व जुलूस निकाला।
मिस्र दौरा : अल-हकीम मस्जिद जाएंगे पीएम
क्वात्रा ने कहा, पीएम 24-25 जून को मिस्र जाएंगे। मिस्र के राष्ट्रपति अब्देल फतह अल-सीसी के निमंत्रण पर यात्रा कर रहे हैं। वे यहां 11वीं सदी की वोहरा समुदाय की अल-हाकिम मस्जिद जाएंगे। वह यहां प्रथम विश्व युद्ध के दौरान मिस्र के लिए लड़ते हुए बलिदान देने वाले भारतीय सैनिकों को श्रद्धांजलि भी अर्पित करेंगे। साथ ही कई समझौतों पर हस्ताक्षर भी करेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button